गुरुवार, 13 अगस्त 2015

भोपाल में वल्र्ड फोटोग्राफी डे पर चित्र प्रदर्शनी 18 से




भोपाल। हम रोज अखबार में किसी न किसी फोटो को देख खबर की वास्तविकता का अंदाजा लगाते हैं, लेकिन उस फोटो को खींचने के लिए एक फोटोग्राफर को कितनी मशक्कत करने पड़ती है। हर फोटो के पीछे क्या कहानी होती है। यह सिर्फ फोटोग्राफर ही जानता है। यह बात अप्सरा रेस्टोरेंट में हुई एक पत्रकार वार्ता में मप्र फोटो जर्नलिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष पृथ्वीराज सिंह ने कही।

वल्र्ड फोटोग्राफी डे पर एग्जीबिशन का आयोजन
वहीं इस अवसर पर उन्होंने बताया कि 18 और 19 अगस्त को वल्र्ड फोटोग्राफी डे के अवसर पर एक प्रदर्शनी का आयोजन मप्र फोटोजर्नलिस्ट वेलफेयर समिति द्वारा आंचलिक विज्ञान केन्द्र में किया जा रहा है। इस प्रदर्शनी में भोपाल के अखबारों में काम करने वाले फोटो जर्नलिस्ट अपनी कुछ चुनिंदा फोटो को प्रदर्शित कर सकते हैं। इस एग्जीबिशन में भाग लेने वाले फोटो जर्नलिस्ट को प्रदर्शनी के समापन अवसर पर सम्मानित किया जाएगा। वहीं पत्रकारिता में विशेष योगदान के लिए 10 फोटोग्राफर और 5 वीडियोग्राफर को फोटो रत्न अवार्ड से भी सम्मानित किया जाएगा। इस मौके पर सभी को शाल, श्रीफल और मोमेंटो देकर सम्मानित किया जाएगा।

फोटोग्राफर करता है समाज को जागरुक
वहीं संस्था के सचिव शमीम खान ने बताया कि इस आयोजन का उद्देश्य राजधानी वासियों को फोटो पत्रकारों की वास्तविकता से परिचित कराना है। वहीं संयोजक विवेक पटेरिया ने बताया कि यह आयोजन फोटोग्राफर को उनके पेशे के प्रति जागरुक कराने के लिए है, ताकि  वे यह जान सकें कि उनके द्वारा किए गए कार्यों के कारण ही समाज में जागरुकता फैलती है। इस अवसर पर शिवनारायण मीना, अशरफ अली, रविन्द्र सिंह, भूपेन्द्र सिंह, अमित भारद्वाज, तबरेज खान, ताजनूर खान,  और आशीष श्रीवास्तव सभी प्रमुख समाचार पत्रों के फोटोग्राफर उपस्थित थे।

रविवार, 19 जुलाई 2015

शार्ट फिल्मों का जादूगर - रतीराम कैमया


राजधानी में 1988 से अब तक बना चुके हैं कई फिल्में

- राजकुमार सोनी



 भोपाल। राजधानी में जहां बड़े-बड़े नामी-गिरामी फिल्म निर्माता व डायरेक्टर कई फिल्मों व सीरियल की शूटिंग कर रहे हैं वहीं साधारण परिवार में जन्म लेने सामान्य कद-काठी सा दिखने वाले इस इंसान को देखकर ऐसा नहीं लगता कि राजधानी में दर्जनों शॉर्ट फिल्में, भोजपुरी व हिन्दी फिल्में बनाई होंगी। ऐसे शख्स का नाम है - रतीराम कैमया। रतिराम कैमया अपने खुद के प्रॉडक्शन हाउस 'कृष्णा ओ कृष्णा आर्टसÓ के बैनर तले फिल्में, सीरियल बनाते हैं जो प्रदेश से लेकर बॉडीवुड तक चर्चाओं में हैं।

1988 से आए फिल्मों में
कैमया ने अभिनय की दुनिया में 1988 से कदम रखा। उन्होंने पहली फिल्म 'असली एनकाउंटरÓ में बतौर एक्टर काम किया। यह फिल्म निर्माता सुरजीत सबरवाल द्वारा डीबीसी फिल्म के बैनर तले बनी थी। बाद में रतिराम ने सुरजीत सबरवाल से स्क्रीन राइटिंग, प्ले निर्देशन व एक्टिंग का काम सीखा। बाद में 1993 में मप्र की टीम को लेकर कृष्णा ओ कृष्णा (फिल्म) आटर्स नामक संस्था का गठन किया। 1994 में इसी बैनर तले पहली पहली फिल्म 'आभासÓ का निर्माण किया जो 25 मिनट की थी। फिल्म का निर्देशन रामप्रसाद शर्मा ने किया। जबकि मुख्य कलाकार राजेंद्र श्रीवास्तव, अभिनेत्री अनीजा केशवान, पिता की भूमिका रतिराम कैमया ने निभाई। इसमें लगभग आधा दर्जन स्थानीय कलाकारों ने भूमिका निभाई।

भोजपुरी लोकगीतों की ओर रुख
रतिराम कैमया ने 2006-7 में भोजपुरी लोकगीतों की तरफ रुख किया जिसमें पहला एलबम 'उड़ल गोरी के लहंगाÓ बाजार में आया। इसमें सह निर्देशक व कलाकार के रूप में साधू , फकीर व एक किसान की भूमिका का अभिनय किया गया। 2007-08 में 'कॉलेज जा ली गोरियाÓ में डॉक्टर व डाकिया की भूमिका निभाई। इसी तरह 2008-09 में तीसरा एलबम 'हाजीपुर के केराÓ व 2009-10 में 'आवा भौजी डालब तह पे रंगÓ आया। यह एलबम होली के 8 गानों पर आधारित है। दोनों एलबम के गायक व संगीतकार मोहम्मद रहीमउद्दीन हैं। इसी कड़ी में 2011 में फिल्म फेस्टीवल हेतु 20 मिनट की हिन्दी फिल्म 'चाहते जोÓ भोपाल में निर्माण की गई, साथ ही 2012 में फिल्मी चक्कर 25 मिनट की फिल्म फेस्टीवल में दी गई। इन फिळ्मों को मप्र के फिल्म फेस्टीवल में अवार्ड से सम्मानित किया गया।  वर्ष 2014 में दो मिनट की डंकिंग ड्राइव पर एक एड फिल्म का निर्माण किया गया जो प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए भेजी गई है।

शीघ्र आएगा एलबम
कृष्णा ओ कृष्णा प्रॉडक्शन के बैनर तले शीघ्र ही पांचवां एलबम 'बेटी कैसे होई शादीÓ (सात भोजपुरी लोकगीत) आएगा। जिसकी शूटिंग भोपाल व आसपास के चुनिंदा इलाकों में होगी। इसके बाद दो घंटे की एक फिल्म 'अभी प्यार बाकी हैÓ (लव स्टोरी व मारधाड़) पर आधारित है का निर्माण 2016 में किया जाएगा। इसके लिए हीरो-हीरोइन की तलाश की जा रही है।

शार्ट फिल्मों की मांग ज्यादा
बाडीवुड-हॉलीवुड में अब शार्ट फिल्मों की डिमांड ज्यादा होने लगी है। सोशल मीडिया के तहत फेसबुक, यू-ट्यूब, पिकासा, ट्यीटर आदि साइटों पर प्रचलन तेजी से बढऩे से हर कोई इसी पर लाइक कर रहा है। कैमया ने बताया कि शार्ट फिल्में 2 से 15 मिनट तक की बनाई जा रही हैं जो सामाजिक बुराइयों, रूढि़वादी परंपराओं, सामाजिक कुरीतियों को दूर करने, समाज में बदलाव लाने व गरीबी, नशा से मुक्ति दिलाने जैसे विषयों को प्राथमिकता से लिया जा जाता है। हर बेटा-बेटी शिक्षित होकर आगे बढ़े ऐसी शार्ट फिल्मों को खूब पसंद किया जा रहा है।

Ratiram kemya

गुरुवार, 22 जनवरी 2015

मप्र के राज्यपाल रामनरेश यादव से पत्रकार प्रवीण श्रीवास्तव व राजकुमार सोनी की सौजन्य भेंट



भोपाल। मिशन फॉर मदर के संचालक प्रवीण श्रीवास्तव व पत्रकार राजकुमार सोनी ने 22 जनवरी को दोपहर 12 बजे मप्र के राज्यपाल रामनरेश यादव से राजभवन में सौजन्य भेंट की। इस अवसर पर राज्यपाल को मां कविता संग्रह व तस्वीर भेंट की गई। राज्यपाल रामनरेश यादव ने मिशन की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए मिशन के उज्जवल भविष्य की कामना की। राज्यपाल ने अपने माता-पिता के रोच संस्मरण भी सुनाए।




शुक्रवार, 28 मार्च 2014

सूर्य व शुक्र बनवाएंगे मोदी को पीएम





प्रधानमंत्री पद पर पहुंचने के लिए महिला शक्ति होगी मददगार

- राजकुमार सोनी

मई में गुजरात के सीएम नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ लेकर सत्तासीन होंगे। मुख्यमंत्री से प्रधानमंत्री पद तक पहुंचाने में किसी खास महिला का योगदान होगा। ऐसा योग सूर्य व शुक्र ग्रह से बन रहा है। भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी के ज्योतिषीय आकलन दृष्टिकोण से मप्र के प्रमुख भविष्यवक्ताओं व ज्योतिषियों से अबकी बार किसकी सरकार और कौन बनेगा प्रधानमंत्री के बारे में बात की। इन प्रकांड विद्वानों का कहना है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा को सर्वाधिक सीटें हासिल होंगी और एनडीए की सरकार के मुखिया इस बार लालकृष्ण आडवाणी की बजाय गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी होंगे। लोकसभा में एनडीए को 250 से 275 सीटें मिलेंगी जबकि यूपीए को 80 से 110 सीटें ही मिल पाएंगी।

इंदौर के लालकिताब विशेषज्ञ एवं भविष्यवक्ता पं. आशीष शुक्ला के अनुसार शनि शत्रु राशि में होकर चतुर्थ पर पूर्ण दृष्टि रखने से जनता के बीच प्रसिद्ध बना रहा है। भारत की अधिकांश जनता भावी प्रधानमंत्री के रूप में देख रही है। दशमेश बुध एकादशेश के साथ है। दशमेश सूर्य, केतु से भी युक्त है। सूर्य का महादशा में लग्नेश मंगल का अन्तर चल रहा है जो दशमेश होकर लाभ भाव में व मंगल स्वराशि का होकर लग्न में है। यह समय भाजपा को उत्थान की ओर लेजाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बन जाएंगे। पं. शुक्ल ने कहा कि लालकृष्ण आडवाणी का योग प्रधानमंत्री बनने का नहीं है।
सागर के ज्योतिषाचार्य एवं अंक शास्त्री पं. पीएन भट्ट के अनुसार नरेन्द्र मोदी की जन्म राशि वृश्चिक है। शनि की साढ़े साती का प्रथम चरण चल रहा है। राजभवन में विराजे शुक्र में पराक्रमेश शनि की अन्तर्दशा में गुजरात के मुख्यमंत्री बने। 02.12.2005 को शुक्र की महादशा के बाद राज्येश सूर्य की महादशा जो 03.02.2011 तक चली। तत्पश्चात् 03.02.2011 से भाग्येश चन्द्र की महादशा का शुभारम्भ हुआ। ज्योतिष ग्रंथों में वर्णित है कि एक तो भाग्येश की महादशा जीवन में आती नहीं है और यदि आ जाए तो जातक रंक से राजा तथा राजा से महाराजा बनता है।  मोदी भाग्येश की महादशा में मुख्यमंत्री से प्रधानमंत्री बन सकते हैं, किन्तु चन्द्रमा में राहु की अन्र्तदशा ग्रहण योग बना रही है तथा 20 अप्रैल से 20 जुलाई 2014 के मध्य व्ययेश शुक्र की प्रत्यन्तर दशा कहीं प्रधानमंत्री पद तक पहुंचने के प्रबल योग को ण न कर दें? यद्यपि योगनी की महादशा संकटा में सिद्धा की अन्तर्दशा तथा वर्ष कुण्डली में वर्ष लग्न जन्म लग्न का मारक भवन (द्वितीय) होते हुए भी मुंथा पराक्रम भवन में बैठी है तथा मुंथेश शनि अपनी उच्च राशि का होकर लाभ भवन में विराजमान है। जो अपनी तेजस्वीयता से जातक को 7 रेसकोर्स तक पहुंचा सकता है। किन्तु एक अवरोध फिर भी शेष है और वह है सर्वाष्टक वर्ग के राज्य भवन में लालकृष्ण आडवानी और राहुल गांधी की तुलना में कम शुभ अंक अर्थात् 27.  साथ ही ''मूसल योग'' जातक को दुराग्रही बना रहा है तथा केमद्रुम योग, जो चन्द्रमा के द्वितीय और द्वादश में कोई ग्रह न होने के कारण बन रहा है। उसका फल भी शुभ कर्मों के फल प्राप्ति में बाधा। वर्तमान में भाग्येश चन्द्रमा की महादशा चल रही है, जो दिल्ली के तख्ते ताऊस पर  मोदी की ताजपोशी कर तो सकती है किन्तु केमद्रुम योग तथा ग्रहण योग इसमें संशय व्यक्त करता नजर आ रहा है? 
ग्वालियर के भविष्यवक्ता पं. एचसी जैन ने बताया कि नरेंद्र मोदी की कुंडली में केन्द्र का स्वामी केन्द्र में होकर त्रिकोण के साथ लक्ष्मीनारायण योग बना रहा है। यह योग कर्म क्षेत्र को धनवान बनाने में समर्थ है। यही कारण है कि नरेंद्र मोदी की ख्याति विरोध के बावजूद लगातार बढ़ रही है। उन्होंने बताया कि लोकसभा में एनडीए को 250 से 275 सीटें मिलेंगी जबकि यूपीए को 80 से 110 सीटें ही मिल पाएंगी। जैन ने बताया कि मोदी को प्रधानमंत्री बनवाने में किसी खास महिला का विशेष योगदान रहेगा।


 


जन्मकुंडली : नरेन्द्र मोदी
जन्म दिनांक : 17 सितम्बर, 1950
जन्म समय : 11 बजे प्रात:
जन्म स्थान: मेहसाना (गुजरात)   

शनिवार, 18 जनवरी 2014

मेरा बद्तमीज दिल


- परिणीता नगरकर
भोपाल।
प्रमुख हिंदी फिल्मों और विशेष इवेंट्स के हिंदुस्तान के प्रमुख चैनल मैक्स द्वारा जल्दी ही दिखाई जाने वाली अपनी नवीनतम सुपरहिट फिल्म 'ये जवानी है दीवानी को प्रमोट करने के लिये हाल में लॉन्च कैंपेन की कैंपेन लाइन है: 'यह बद्तमीजी नहीं चलेगी, बद्तमीजी चलेगी तो सिर्फ मैक्स पर। यह लाइन फिल्म के सबसे कैची ट्रैक से ली गई है जिसमें यह जिक्र है कि दिल को जब मोहब्बत हो जाती है तो वह क्या करता है। मैक्स ने अपने दर्शकों के कुछ प्रिय टेलीविजन कलाकारों से  बात की और उनसे उनके बद्तमीज दिल मोमेंट्स के बारे में पूछा।

संगीता घोष उर्फ जी लें जरा की साची प्रभु
मेरा मोस्ट स्पेशल बद्तमीज दिल मोमेंट वह था जब मैंने पहली पहली बार अपने पति के लिये खाना बनाया। उन्हें खीर बहुत पसंद है इसलिये मैंने तय किया कि खीर ही बनाऊंगी। खुद बनाने की यह मेरी पहली  ही कोशिश थी। मैंने खीर को डेकोरेट करके  फ्रिज में रख दिया। जब उसे परोसने का मौका आया तो मैंने देखा कि खीर तो जम कर ठोस कुल्फी जैसी हो गई है। इससे भी ज्यादा ताज्जुब मुझे यह देख कर हुआ कि मेरे पति ने उसे खूब मजे ले लेकर खा लिया और उसके लिये मेरी भरपूर तारीफ भी की!

रुसलान मुमताज उर्फ जी लें जरा के ध्रुव गोयल
मैंने एक बार अपनी गर्लफ्रैंड को यह कह कर अपने घर इनवाइट किया कि हमारे घर हाउस पार्टी है लेकिन सच यह था कि मैं घर में अकेला था और हमारे यहां कोई पार्टी वार्टी नहीं थी। जब उसे मेरी इस शरारत का पता चला तो पहले तो वह थोड़ी हिचकिचाई लेकिन मैंने तुरंत ही कराओके सेशन शुरू करके उसे हैरत में डाल दिया। मैं रात भर उसे गाने सुनाता रहा और हमारा टाइम बड़ा सुहाना गुजरा। वही मेरी जिंदगी का सबसे बद्तमीज दिल मोमेंट था। 

ऐश्वर्या सखूजा उर्फ मैं ना भूलूंगी की की शिखा गुप्ता
मेरी जिंदगी का सबसे स्पेशल बद्तमीज दिल मोमेंट उन दिनों आया था जब मैं मॉडलिंग करती थी और मैंने अपने फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट के लिये कुछ पैसा बचाने की सोची। मैंने अपने पापा से प्रॉमिस किया था कि मैं पैसा बचाऊंगी और उसे कहीं इन्वेस्ट कर दंगी। जब एक खास टारगेट पूरा हो गया तब मैंने वह सारा पैसा अपना पहला प्रादा हैंड बैग खरीदने में उड़ा दिया!

अक्षा गारोडिया उर्फ महाराणा प्रताप की धीर बाई भटियानी
मैं तो एक्स्ट्रीमली स्पेशल बद्तमीज परसन हूं, वैसी जिसे अंगरेजी में हू वियर्स हर हार्ट ऑन हर स्लीव्स कहते हैं। मुझे जहां भी, जो भी आकर्षक लगता है, मेरा दिल वहीं बद्तमीज दिल हो जाता है। 

बूगी वूगी के जावेद जाफरी
जब मेरी पत्नी 9 महीने की गर्भवती थीं तो मैं उन्हें बारिश में कार्टर रोड की सैर कराने के लिये अपनी पीठ पर उठा कर ले गया था। मेरे लिए, मेरी पत्नी और बच्चे के लियेे भी वही मेरा बद्तमीज दिल मोमेंट था।

बूगी वूगी के रवि बहल
मेरा बद्तमीज दिल मोमेंट वेलेंन्टाइन डे पर तब आया जब मेरी गर्लफ्रैंड गिफ्ट की उम्मीद में थी और मैंने उसे कुछ दिया नहीं। जब 12।00 बज चुके, तब मैं उसके घर पहुंचा और उसे ढेर सारे गिफ्ट दिये और कहा, 'तुम्हारे लिये अपना प्यार दर्शाने को मुझे किसी वेलेंन्टाइन डे की जरूरत नहीं पड़ती।

बूगी वूगी से नावेद जाफरी
मेरे लिये मेरा सबसे अलग और स्पेशल बद्तमीज दिल मोमेंट मेरे बचपन की यादों और मेरी मां के साथ जुड़ा है। मैंने अपनी मां के लिये 10 पैसे के गुलाब खरीदे थे जबकि मुझे कोई पॉकेट मनी नहीं मिलती थी। बद्तमीज दिल स्टाइल में तो मैंने अपनी गर्लफ्रैंड के लिये कभी कुछ किया नहीं।

अपने सेंसेज को हाई एलर्ट पर रखिये और सोनी मैक्स पर 'ये जवानी है दीवानीÓ के आगामी प्रीमियर की यूनिक कैंपेन एक्टिविटज के लिये अपने आसपास नजर बनाये रखिये। इसी तरह की अन्य दूसरी एक्टिविटीज के बद्तमीज दिल मोमेंट्स के लिये ट्यून कीजिये- ये जवानी है दीवानी, मैक्स टेलीविजन प्रीमियर, रविवार 19 जनवरी 2014, रात 8।00 बजे, सिर्फ मैक्स पर।

Sangeeta Ghosh

'Naved Jaaferi

Aashka Goradia

Aishwarya Sakhujua

Javed Jaaferi

Ravi Behl

Ruslaan Mumtaaz

Ruslan Mumtaaz

शनिवार, 28 दिसंबर 2013

चाकू दिखाकर लूटने वाले गैंग का भांडाफोड़



क्राइम ब्रांच एएसपी शैलेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि चाकू दिखाकर लूटने वाले दो लुटेरे बागसेवनिया तरफ घूम रहे हैं। इस सूचना पर तुरंत ही थाने का स्टाफ इकट्ठा कर दो पार्टियां बनाई गई। एक पार्टी बागसेवनिया, लहारपुर, कटारा तरफ रवाना की गई । दूसरी पार्टी अमराई, अरविन्द विहार तरफ रवाना की गई। तलाश के दौरान नवजीवन अस्पताल के आगे संदिग्ध अंडे के ठेले के पास दिखा एक लड़का नीचे खड़ा था दूसरा मोटर साइकिल पर बैठा था । पार्टी ने घेराबंदी की बदमाश शातिर होने से पुलिस का एहसास होते ही मोटर साइकिल पर बैठा बदमाश मोटर साईकिल स्टार्ट कर अरविन्द विहार तरफ भागा एवं हमराह बल की मदद से पैदल खड़े बदमाश को पकड़ा गया। हमराह बल में प्रधान आरक्षक मनोज ने बदमाश की पहचान नासिर पिता हनीफ निवासी मंगलवारा के रूप में की चेक करने पर आरोपी की जैकेट में उल्टे हाथ तरफ छिपा हुआ चाकू मिला जो 25 आम्र्स एक्ट में गिरफ्तार किया गया। आरोपी के कब्जे से एक पर्स भी मिला जिसमें 100-100 के दो नोट अंदर के हिस्से में 1000 का एक नोट एवं रजिस्ट्रेशन कार्ड व एक विजिटिंग कार्ड रितिक का मिला । जो फरियादी बृजनेव सोनी ने पर्स एवं रजिस्ट्रेशन कार्ड व 200 रूपये अपने होना बताया । दूसरा मोटर साईकिल से भागे बदमाश की घेराबंदी की गई एवं पार्टी नंबर 2 को सेट से बताया गया जो कुछ ही समय में पार्टी नंबर 2 उनि गौतम ने अमराई, अरविन्द विहार जोड़ पर पकड़ लेना बताया एवं तलाशी लेने पर एक चाकू आदि मिलना बताया जो धारा 25 आम्र्स एक्ट में गिरफ्तार किया गया। दोनों आरोपियों को थाना लाकर पूछताछ करने पर शहर में चाकू दिखाकर चोरियों की गाडिय़ों से करना स्वीकार किया। थाना बागसेवनिया के 8 लूट के अपराध एवं 1 मोटर साइकिल चोरी के अपराध अपने द्वारा करना स्वीकार किया  जिनमें विधिवत गिरफतार किया गया।  आरोपियों से पूछताछ करने पर थाना शाहपुरा के 4, थाना कोहेफिजा के 2, थाना कोलार रोड के 6, थाना पिपलानी के 3, थाना गोविन्दपुरा के 2, थाना टीला जमालपुरा के 1 एवं थाना बैरागढ़ की घटनाएं करना स्वीकार किया है ।

पकड़े गये आरोपियों का विवरण
  •  बसीम उर्फ राजू सगीर उम्र 35 साल करोंद भोपाल लुटेरा (सब्जी मण्डी में हम्माल )
  • नासिर हनीफ उम्र 30 साल मकान नंबर 11 तेली वाली गली मंगलवारा भोपाल लुटेरा (ट्रांसपोर्ट व्यवसायी)
  • फिरोज बंगाली स्व: अलाउददीन उम्र 35 साल, चटाईपुरा गली नंबर 2 मकान नंबर 16 भोपाल  ज्वेलर्स (सुनार)
  • राजू उर्फ रज्जाक बाबू खां उम्र 42, सालमुरली नगर भोपाल लुटेरा (सब्जी मण्डी में हम्माल)

आरोपियों की कार्यप्रणाली

पकड़े गये लुटेरे बसीम उर्फ राजू एवं नासिर जुआ खेलने के आदि है मण्डीदीप में जुआ खेलने जाते समय थाना बागसेवनिया, थाना मिसरोद, थाना शाहपुरा, थाना कोलार, थाना पिपलानी, गोविन्दपुरा, थाना कोहेफिजा, थाना बैरागढ़ तरफ जाते समय किसी भी व्यक्ति के गले में चेन अंगूठी या फूला हुआ जेब देखकर उसका पीछा करते थे एवं मौका देखकर गाड़ी आगे लगाकर रोकते थे एवं चाकू दिखाकर लूट पाट करके भाग जाते । पुलिस वालों की सहानुभूति लेने के लिये छोटी मोटी मुखबिरी करके अपने आपको बचाये हुये थे ।

मंगलवार, 24 दिसंबर 2013

भोपाल में क्राइम ब्रांच ने दो वाहन चोर पकड़े, 26 वाहन जप्त



  • लगभग तेरह लाख रुपए से अधिक के वाहन जप्त

  • डिमांड पर उपलब्ध कराते थे वाहन


भोपाल।
क्राइम ब्रान्च भोपाल द्वारा मुखबिर की सूचना पर वाहन चोर गिरोह के दो सक्रिय सदस्य को थाना गोविंदपुरा पुलिस के सहयोग से घेराबंदी कर पकडऩे  में सफलता अर्जित की है । इन सदस्यों की निशानदेही पर तेरह लाख रुपए से अधिक  के विभिन्न जिलों से चोरी गये 26 दो पहिया वाहन जिनमें-मोटर साइकिल अपाचे,  पेशन प्रो, डिसकवर, होंडा साइन, सीबीजेड इत्यादि शामिल है ।
क्राइम ब्रांच के एएसपी शैलेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि क्राइम ब्रान्च भोपाल व गोविंदपुरा पुलिस द्वारा चोरी की मोटर साइकिल का बेचने का प्रयास करते 23 दिसंबर को गोविंदपुरा क्षेत्रान्तर्गत अवधपुरी तिराहे पर रंगे हाथ दो वाहन चोर आशीष माथुर पिता दिलीप माथुर, उम्र 32 साल निवासी 60 न्यू देवास रोड, दुबे का बगीचा, थाना तुकोगंज, इंदौर व अकरम पिता सैय्यद असद, उम्र 26 साल निवासी वार्ड क्रमांक 18, संजय नगर  भोपाल रोड, जिला रायसेन को पकड़ा गया जिनके कब्जे से थाना गोविंदपुरा क्षेत्र  से चोरी गई मोटर साइकिल पेशन-प्रो जप्त की गई । आरोपियों ने पूछताछ पर भोपाल के बैरागढ, हनुमानगंज, निशातपुरा, पिपलानी, गोविंदपुरा, गंजबासौदा, सागर व अन्य क्षेत्रों से वाहन चोरी करना स्वीकार किया तथा बताया कि चोरी किये गये चार वाहन हबीबगंज रेल्वे स्टेशन 5 नंबर पार्किंग पर, 4 वाहन मीनाल मॉल की पार्किंग में, 7 वाहन जिला सागर में अभिषेक विश्ववकर्मा व नरेन्द्र कुशवाह को बेचे हैं तथा ईशागढ़ जिला अशोकनगर में बकतावर सिंह को 3 वाहन तथा राजपाल यादव को 7 को देना बताया । आरोपियों की बताई सूचना के आधार पर वाहन बरामदगी हेतु दो पृथक-पृथक टीमें बनाकर रवाना किया गया । मीनाल मॉल पार्किंग से चार चोरी के दो पहिया व हबीबगंज रेल्वे स्टेशन 5 नंबर पार्किंग से 4 चोरी के वाहन बरामद कर जप्त किये गये । एक पार्टी जिला सागर के लिए रवाना हुई, जिसके द्वारा वहां पर नरेन्द्र कुशवाह से 3 चोरी के वाहन तथा अभिषेक विश्वकर्मा से 4 चोरी के वाहन बरामद किये गये । दूसरी पार्टी ईषागड जिला अषोकनगर रवाना हुई जिसके द्वारा वहां से आरोपी राजपाल यादव से 7 व आरोपी  बकतावर सिंह से चोरी के 3 वाहन बरामद किये गये । आरोपियों अकरम व आशीष माथुर द्वारा भीड़ भाड़ वाले इलाके/पार्किंग/सूने स्थानों पर खड़ी मोटर साइकिलों पर बैठकर मोटर साइकिल के लॉक में चाबी फंसाकर-घुमाकर चेक किया जाता था और जो मोटर साइकिल खुल जाती थी उसे लेकर वो चंपत हो जाते थे। आरोपियों से लगातार पूछताछ जारी है। इनसे और भी अधिक वाहन चोरी की वारदातों का खुलासा होने की संभावना है ।

वाहन क्रं वाहन का प्रकार थाना
1. MP40MF6900 होडा साईन ब्लैक बैरागढ
2. MP15ME7768 होडा साईन ब्लैक कोतवाली
3. MP04FM5193 होडा साईन ब्लैक पिपलानी
4 MP04MV6224 पेशन प्रो बीरेड निशातपुरा
5 MP04DM5933 पेशन प्रो ब्लैक निशातपुरा
6 MP05MF7595 होंडा साईन ब्लैक निशातपुरा
7 MP04FM7291 डिस्कवर ब्लैक निशातपुरा
8 MP04FM7291 सीबीजेड ब्लैक हनुमानगंज
9 MP04MX3424 सीबीजेड ब्लैक हनुमानगंज
10 MP04MX3424 पेशन प्रो फेयर ब्लू
11 MP04MX3424 पेशन प्रो ब्लैक हनुमानगंज
12 MPO4EM3924 पेशन प्रो ब्लैक हनुमानगंज
13 MP04MU6560 पेशन प्लस रेड हनुमानगंज
14 MP07ME5898 पेशन प्रो रेड
15 MP40BC9507 सीडी डिलक्स रेड गंजबासौदा
16 MP04ML8408 पेशन प्रो एसआरडी गोविंदपुरा
17 MP04M6412 पेशन प्रो ब्लैक गोविंदपुरा
18 MP04MZ4436 पेशन प्रो सिल्वर गोविंदपुरा
19 MP15MF8063 पेशन प्रो ब्लैक गोपालगंज सागर
20 MP04ML9016 टीवीएस अपाचे ब्लैक
21 MP04ML4354 डिस्कवर बी रेड
22 MPO5MC4982 डिस्कवर ब्लैक
23 MP40MD2290 होडा साईन ब्लैक
24 MP04MK4376 पेशन प्रो ब्लू
25.पेशन ब्लैक

26. पेशन सिल्वर

ट्रक सहित वाहन चोर गिरफ्तार
क्राइम ब्रान्च भोपाल की टीम द्वारा इसी माह थाना कोहेफिजा में वाहन चोरी की घटना में संलिप्त आरोपी वाहन चोर सलीम, निवासी काजीकेम्प भोपाल को पकड़कर सुपुर्द किया गया था । उक्त वाहन चोर के जरिये एवं मुखबिर तंत्रों के आधार पर क्राइम ब्रान्च की टीम के सदस्य सक्रिय हुये एवं मुखबिर द्वारा बताये गये स्थानों पर वाहन चोर गिरोह के सदस्य की हुलिये के आधार पर तलाश के प्रयास किये गये । क्राइम ब्रान्च को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि एक टाटा 407 ट्रक जिसमें हरियाणा सीरीज का नंबर पड़ा है वह कोलार क्षेत्र में बोरदा के जंगल की ओर जा रहा है । मुखबिर द्वारा बताये गये नंबर एवं अन्य जानकारियों के आधार पर ट्रक की सरगर्मी से कोलार थाना क्षेत्रान्तर्गत बोरदा के जंगलों में सर्च किया गया । काफी लंबे समय तक सर्च करने के बाद मुखबिर द्वारा बताया गया एचआर सीरीज का टाटा ट्रक दिखाई पड़ा । ट्रक, बोरदा के जंगलों में दिखाई पडऩे के उपरांत क्राइम ब्रान्च की टीम द्वारा कोलार पुलिस की सहायता ट्रक की देखरेख करने वाले व्यक्ति घेराबंदी कर दबोचा गया । पकड़े गये व्यक्ति से तत्समय पूछताछ करने पर उक्त व्यक्ति ने अपना नाम आबिद, निवासी आष्टा जिला सीहोर का होना बताया तथा उसी समय ट्रक के संबंध में सख्ती से पूछताछ की गई जिसमें उसके द्वारा उसके साथी मथुरा निवासी, गफूर, मुरादाबाद निवासी मेंहदी हसन के द्वारा चोरी कर भेजा जाना बताया गया । कोलार क्षेत्र से पकड़े गये युवक को क्राइम ब्रान्च लाकर सख्ती से पछताछ की गई जिसने बोरदा के जंगलों में खड़े अन्य 13 ट्रक भी चोरी के खड़े होना बताया गया । आरोपी की निशानदेही पर बोरदा क्षेत्र के जंगलों में खड़े ट्रकों को क्राइम ब्रान्च लाया जा रहा है ।आरोपी से पूछताछ लगातार की जा रही है, वर्तमान में आरोपी की याददाश्त के अनुसार वाहन जप्त किये जा रहे हैं आरोपी से और भी अधिक वाहनों के बरामदगी की संभावना है । साथ ही इस अंतर्राज्यीय गिरोह के अन्य सदस्यों के गिरफ्तारी के प्रयास भी लगातार किये जा रहे है ।
यहां यह उल्लेखनीय है कि आरोपी बहुत ही शातिर किस्म का अपराधी है वह चोरी के ट्रकों में इंजन चेसिस नंबर को आंशिक रूप से बदलकर आरटीओ कार्यालय में सांठगांठ कर वाहन का नया रजिस्ट्रेशन जारी करा लेता था । आरोपी जाहिरा तौर पर जिला सीहेार में एक डेन्टिंग पेन्टिंग का कार्य एवं पुराने वाहन खरीदने बेचने का कार्यालय का संचालन करता है एवं इसी कारोबार की आड़ लेकर चोरी के वाहनों को ठिकाने लगाने का काम करता है । इसके पूर्व भी आरोपी वाहन चोरी के मामलों में गिरफ्तार हो चुका है ।